Dr Shah’s patients are pan-India,

literally from Kashmir to Kanyakumari, from Godhara to Guwahati;
from each state and city, and from thousands of villages as well.

Eczema: Causes, Symptoms & Treatment in Hindi

अनुसंधान पर आधारित होमियोपेथी का एक्जीमा पर नियंत्रण

  • डॉ. शाह          
  • लाईफ फोर्स
  • प्रेस सूचना           
  • होमियोपेथी को जानिए

एक्जीमा को जानिए

  • एक्जीमा क्या है ?  
  • रोग के लक्षण
  • रोग के कारण      
  • औपचारिक उपचार
  • होमियोपेथिक उपचार

एक्जीमा क्या है ?

एक्जीमा (Eczema) चमड़ी का रोग है । जिसमें चमड़ी में सुखापन आ जाता है और बहुत ज्यादा खुजली होती है । यह बीमारी हमारे शरीर की हानिकारक प्रमाणो के प्रति स्वरक्षी तंत्र (Immune system) की प्रतिक्रिया है ।

और उपाय फोटो के लिए कीजिए


Eczema on cheeks before and after treatment
Eczema on Palms, before and after treatment

रोग के लक्षण

  • खुजली आती है और चमड़ी लाल हो जाती है । खुजाने पर लक्षण और तीव्र हो जाते है ।
  • चमड़ी सुखी पड़ जाती है और उससे पपड़ी किलती है ।
  • कभी कभी खुजली के बाद फफोला आ जाते है और यह फफोला फूट जाने पर चमड़ी में एक चिकनापन आ जाता है ।
  • चमड़ी की तह में ज्यादा पाया जाता है । खास करके हाथ और पैर जहाँ मुढ़ते है ।
  • साबुन शेम्पु इत्यादि के प्रति चमड़ी अतिसंवेदनशील हो जाती है ।

रोग के कारण
Causes of Eczema in Hindi

  • बहुदा लोगो मे एलर्जी की सुरुवात का मुख्य कारण होता है ।
  • निचे दी गई संवेदनहीत चीजों के संपर्क में आकर चमड़ी मे खुजली इत्यादी उभरणे लगती है ।

            १. साबुन, डिटर्जेट

            २. कुछ कपड़े, जूते

            ३. धात्विक पदार्थ जैसे लिकिल, मरकरी आदि

            ४. नाखून पालिस, सौन्दर्य प्रसाधान क्रीम, चमडे का सामान आदि

  • उन चीजो के संपर्क मे अना जिससे हमे एलर्जी है ।

Tanav eczema ka karan banta hai

औपचारिक उपचार

  • चमड़ी की नमी बढ़ाने वाले मरहम
  • खुजली कम करने वाली दवाईयॉँ
  • एन्टीबायोटिक्स
  • साइक्लोस्पोरिन (ण्ब्म्त्देज्दीग्ह)
  • फोटोथेरेपी (झ्प्दूदूयु.वी.बी. (ळन्न्ँ) और प्यूवा (झ्ळर्न्न्ीं)
  • का उपयोग करना
  • स्टेरॉइड युक्त मरहम और खानेवाली दवाईयॉँ

 

होमियोपेथी उपचार

होमियोपेथी मे एक्जीमा को एक आंतरिक बीमारी का बाहरी रुप माना जाता है । एक्जीमा को स्थानिक रोग नही माना जाता है । होमियोपेथिक दवाई से रोग के लक्षण मेें कमी आती है. साथ मेें शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति भी ब़ढत़ी है । एलर्जीी भी कम हो जाती है ।

सही होमियोपेथिक दवाई चुनने से पहले रोग के सारे लक्षणोें को बारीकी से जांचा जाता है । होमियोपेथी मे हर एक्जीमा के मरिज को एक जैसी दवा नही दी जाती है । बल्कि मरीज को दवा देने के पुर्व, उसे पुर्ण रुप से समझने की कोशिश की जाती है । एक व्यक्ति की प्रवृतिया, मानसिक स्थिती, पारिवारिक और जाननिक प्रवृति को समझा जाता है ।

 

fluconazol 600 fluconazol 800 mg fluconazol 50 mg dosis
Question to Dr. Shah's Team
About Dr. Rajesh Shah
Facts & Myths Homeopathy
Find help for your Disease
Over 2000 Case Studies
Dr. Rajesh Shah Research Work

Eczema Case Studies

A 47-year-old married female patient (PIN: 11271) started her treatment with Life Force in October for severe genital eczema, which had started a year back but had intensified since a week. She had lesions on her vagina with severe itching and burning pain. She mentioned that, after taking oral c.....Read more

A 23-year-old female patient, Ms.  K.C.B. (PIN: 39330) visited Life Force Paud center on 9th February 2019 for the treatment of her Eczema.
She was suffering from eczema from 6-7 months, and it was progressing gradually.  Eczema lesions were present on both her palmar aspect of t.....Read more

A 72-year-old male, Mr. R.A. (PIN: 34977) started online treatment from Life Force Homeopathy for the complaint of Eczema on 26th December 2017.   
He was suffering from eczema for the past many years. The problem was increasing gradually. The lesions of eczema were present on hi.....Read more

Other More Case Studies

Eczema Testimonials

Other More Testimonials

Eczema Case Photos

Results may vary from person to person

Other More Case Photos

Eczema Videos

Results may vary from person to person

Dr Rajesh Shah explaining role of homeopathy for Eczema treatment

Other More Videos