Dr. Shah has pioneered Online homeopathic practice since 1995.

Thousands of patients from 180+ countries have been benefited by Dr. Shah’s homeopathy

Dr Shah’s patients are pan-India,

literally from Kashmir to Kanyakumari, from Godhara to Guwahati;
from each state and city, and from thousands of villages as well.

“I have a rare privilege of treating all kinds of Americans from every corner of the US, including the past President’s family, Hollywood stars, scientists, university professors, and the like.”

- Dr Rajesh Shah

अनुसंधान पर आधारित होमियोपेथी का गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज या एसिड रिपÌलक्स डीसीज पर नियंत्रण

  • डॉ. शाह
  • लाईफफोर्स
  • गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज को जानिए
  • प्रेस सूचना
  • होमियोपेथी के बारे मे जानिए

गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज को जानिए

  • गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज क्या है ?  
  • रोग के लक्षण
  • रोग के कारण
  • रोग निदान
  • औपचारिक उपचार
  • होयिोपेथिक उपचार

गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज क्या है ?

पेट की चीजों का अन्न नली में वापस आने की अवस्था को गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स डीसीज (GERD) या एसिड रिपÌलक्स डीसीज (Acid Reflux Disease) कहते है । पेट की चीजे अम्लीय होने की वजह से वह अन्ननली के भीतर हिस्से को नुकसान पहँुचाते है जिससे जलन, दर्द इत्यादि लक्षण पाये जाते है ।

कुछ मात्रा मे पेट की चीजों का अन्न नली में वापस आना सामान्य बात है । इसे गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स नही कह सकते है । जी.ई.आर.डी. का मुख्य कारर यह है कि कुछ व्यक्तियों मे आहारनली में वापिस जाने वाला दव ज्यादा ही अम्लीय होता है इस कारण आहारनली को ज्यादा नुकसान होता है जो कि गेस्ट्रो इसोफेजियल रिपÌलक्स बीमारी का कारण बनता है ।

रोग के लक्षण

  • छाती के बीच के हिस्से मे जलना
  • खाने की वस्तु का पेट से अन्न नली में वापस आना
  • सूखी खाँसी आवाज बैठ जाना
  • मतली
  • उलटी

रोग के कारण

सामान्य कारण:

  • अन्न नली के नीचे के हिस्से का अनियमित कार्य
  • अन्न नली के नीचे के हिस्से के संकुचन में दुर्बलता
  • अन्न नली के नीचे के हिस्से मे अनुचित ढीलापना
 

अन्य कारण

  • हायेटस हार्निया
  • अन्न नली की संकु धन प्रणाली में खराबी
  • पेट खाली होने मे देर होने की वजह से उपरी हिस्से में दबाव बनना ।
  • तीखा तला हुआ और खट्टा खाना
  • ध्रुम्रपान और शराब का सेवना
  • दवाई व@Àल्शियम चेनल ब्लोकर्स धीयोफाइलीन इ.
  • मोटापा
  • तनाव

रोग निदान

जी.ई.आर.डी. (GERD) का निदान रोग के लक्षण और दवाई से जलन में होने वाले फायदे से किया जाता है । 

औपचारिक उपचार

जी.ई.आर.डी. (GERD) का उपचार करते समय नीचे दिए गए तथ्यों का ध्यान रखना चाहिए ।

१. पेट की अतर्वस्तु को उलटे बहने से रोकना

२. रोग के लक्षणो को कम करना

३. अन्न नलिका में होनेवाली हानि को रोकना

सामन्य रुप से उपयोग मे लिए जानी वाली औपचारिक उपचार की दवाईया

१. एन्टाएसीड

२. एच टू ब्लार्क्स (H2-blockers)

३. प्रोटान पम्प इन्टीबाइटरर्स (Proton pump Intibitors) (PPI)

४. प्रोमोटीलिटी एजेट्स (Promotility agents)

बहूत कम लोगो का इलाज शल्य क्रिया जाता है ।

GERD के उपचार करने के लिए Fundoplication नामक शल्य क्रिया की जाति है ।

 

होमियोपेथिक उपचार

जी.ई.आर.डी. (GERD) के लक्षणो को उभारने वाले कारण ज्यादातर कार्यात्मक असामान्यता और मानसिक तनाव होते है और इन कारणो का जड़ से इलाज होमियोपेथी से ठीक हो सकता है । होमियोपेथी एक मरीज का उपचार करते समय बीमारी के लक्षणो के साथ साथ, उसके व्यक्तित्व को समझने को प्रमुखता देता है ।

होमियोपेथी मे हर जी.ई.आर.डी. (GERD) के मरीज का उपचार एक दवाई के साथ नही किया जाता है । होमियोपेथी के मूल्यो के अनुसार हर मरीज को पुर्णरुप से समझा जाता है उसकी मानसिक प्रवृतियाँ उसके परिवार के लोगो मे होनेवालि बिमारियो का विवरण उसे खाने मे क्या अच्छा लगता है इत्यादी लक्षणो को जाचा जाता है । इन सभी लक्षणो का मुल्यांकन करने के बाद उस मरीज को होमियोपेथीक दवाई दी जाती है ।

यह व्यक्तिगत होमियोपेथी दवाई इस मरीज का जड़ से इलाज करता है । यह सही उपाय है । इस दवाई से रोग के लक्षणो की तीव्रता तो कम होती ही है पर उसके साथ साथ रोग के लक्षणो की पुनरावृत्ति को भी रोक्ता है ।

Question to Dr. Shah's Team
About Dr. Rajesh Shah
Facts & Myths Homeopathy
Find help for your Disease
Over 2000 Case Studies
Dr. Rajesh Shah Research Work

Gerd Case Studies

A 38-years-old male patient, Mr. A.D.C. (PIN: 33725) came to Life Force Homeopathy on 28th May 2020 with complaints of GERD. He was suffering from acidity for the last 15 years. He was diagnosed with GERD in April 2019 and had taken conventional treatment for 6 months till January 2020. For .....Read more

A 34-year-old female (PIN: 25849) visited Life Force Chembur clinic on 1st June 2015 for her complaints of GERD i.e. Gastroesophageal reflux disease.
She was suffering from this problem since September 2014. She had a peculiar sensation of something stuck in the throat. She was experiencin.....Read more

A 49-year-old lady, Mrs. P.N.D.  (PIN: 24418) was diagnosed with GERD in January 2017, however, she had some symptoms of silent reflux (LPR - Laryngopharyngeal reflux) since June 2016 that affected her voice. She used to feel that something is pricking in the throat but didn't have any s.....Read more

Other More Case Studies

Gerd Testimonials

Other More Testimonials

Case Photos

Results may vary from person to person

Other More Case Photos

Videos

Results may vary from person to person

Can homeopathic and conventional (allopathic) medicines be taken together? Explains Dr Rajesh Shah

Homeopathic medicine on corona | Dr.Rajesh Shah & Dr. Jaswant Patil | Ground Zero With Atul Kulkarni

Myths and Facts about homeopathy part 2

Other More Videos